कुंडली विश्लेषण | Horoscope analysis

D1

1 2 3 राहु4 5 6 सूर्य बुध शुक्र7 बृहस्पति8 लग्न शनि9 मंगल केतु10 11 चन्द्र12

D9

1 बुध2 लग्न3 मंगल बृहस्पति शनि4 5 राहु6 7 सूर्य8 चन्द्र9 शुक्र10 11 केतु12

कुंडली विश्लेषण

इस कुंडली के अनुसार बुध की महादशा ( 03, जनवरी 2034 तक ), बुध का अंतर दशा ( 30, मई 2019 तक ) और बृहस्पति का प्रांतर दशा ( 30, दिसंबर 2018 तक ) चल रही है।

धनु लग्न की कुंडली हैं और लग्नेश बनते है बृहस्पति जो कि द्वादश भाव मित्र राशि में विराजमान है। सूर्य के समीप होने से शुक्र ग्रह अस्त है।
उच्च ग्रह मंगल | नीच ग्रह सूर्य | मूलत्रिकोण शुक्र
D9 - कुंडली में नीच ग्रह मंगल


महादशा शुभ है या अशुभ